शनिवार, अप्रैल 12, 2008

गाँधीजी की आत्मकथा का आडियो (प्रथम दो कडियाँ)

पिछले साल गाँधी जयन्ती के अवसर पर उनकी आत्मकथा का आडियो जारी हुआ था । इस लगभग ८० मिनट के आडियो में गाँधीजी के जीवन से सम्बधित मुख्य घटनाओं को उनकी आत्मकथा के माध्यम से कहा गया है । प्रमुख आवाजें शेखर कपूर और नन्दिता दास की हैं । रेडिफ़ पर इस सन्दर्भ में जानकारी यहाँ पर है और इस लिंक पर जाकर आप स्वयं इस आडियो को मात्र पचास रूपये में मंगा सकते हैं । गाँधीजी के बारे में जितना पढा जाये उतना कम है और मुझे लगता है कि आज का युवा उनके बारे में अपनी राय उनके बारे में बिना किसी प्रयास के जानकारी ग्रहण किये केवल सुनी सुनायी बातों से कायम करता सा दिखता है ।
गाँधीजी अजातशत्रु नहीं थे, और ऐसा नहीं कि उनसे गलतियाँ न हुयी हों परन्तु मेरी समझ में वो गलतियाँ उनके विशाल व्यक्तित्व को छोटा नहीं बना देती ।

मेरी परेशानी ये है कि ये आडियो अंग्रेजी में है और अपनी व्यस्तता से मैं इस आडियो का अनुवाद करने में अक्षम हूँ । चूँकि आमतौर पर १० मिनट से लम्बा आडियो बोझिल हो जाता है, मैं इस आडियो को कई कडियों में प्रस्तुत कर रहा हूँ । सभी कडियाँ ९-१४ मिनट की अवधि की हैं । इस पोस्ट में मैं पहली दो कडियाँ सुनवा रहा हूँ । यदि आपको ये पसन्द आये तो अपनी टिप्पणी अवश्य दें जिससे बाकी कडियाँ भी प्रस्तुत की जा सकें ।

ये रही पहली कडी:



और ये रही दूसरी कडी:



Technorati Tags ,,,

8 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर। मुझे तो लगता है कि हम कुछ ब्लॉगर्स मिल कर महत्वपूर्ण पुस्तकों के रोचक प्रस्तुतिकरण से युक्त ऑडियो फाइल्स बना सकते हैं।

    साउण्ड मिक्सिन्ग का मेरे पास सॉफ्टवेयर नहीं है। अन्यथा कुछ अच्छी बुकलेट्स के साथ मैं ही प्रारम्भ करता।

    यह सुनाने और आइडिया जर्मिनेट करने के लिये बहुत धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप ऑडियो बुक्स की पायनियरिंग संस्था रेडियो रेड द्वारा जारी ऑडियो बुक्स और अलग अलग ऑडियो प्रेज़ेंटेशंस यहाँ भी सुन सकते हैं- www.tooteehueebikhreehuee.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  3. bahut badhiyaa post NEERAJ JI. merey betey ko sun kar bahut aanand aa raha hai..uski tarf se bhi thx..jaari rakhey pls

    उत्तर देंहटाएं
  4. बढिया प्रयास!

    ज्ञानजी, साउण्ड मिक्सिन्ग और रिर्काडिंग के लिये

    आडेसिटी
    अच्छा और मुक्त सोर्स साफ्टवेयर है।

    उत्तर देंहटाएं
  5. भाई नीरजजी,

    इस पुनीत पोस्ट के लिए हमारी और से आपको एक ट्रीट ड्यू. भाई वाह मज़ा आ गया.
    इसको हिन्दी में बदलने का काम हो जाए तो और भी मज़ा आए..

    रघुपति राघव राजा राम,
    पतित पावन सीता राम.
    सीताराम सीताराम,
    भज प्यारे तू सीताराम.


    जय हो.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुंदर, मन को छूने वाला. अफलातून जी ने लिंक बताया था, उनका भी धन्यवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  7. बेनामी4:15 am

    क्या मै मोबाइल पर इंटरनेटद्वारा ये सुनसकता हूँ कैसे आज के जमानेमें उनके audio aur videoki bahut avashakata है जबकी उनके खिलाफ के सच लगनेवाले झूठे Audio video तुरंत मिल जाते है PLS GANDHIJI KE BAREME BHI ACHHE AUDIO AUR VIDEO BANAE उनका पुर्ण जीवन प्रेरणादायी है

    उत्तर देंहटाएं
  8. बेनामी4:31 am

    क्या मै मोबाइल पर इंटरनेटद्वारा ये सुनसकता हूँ कैसे आज के जमानेमें उनके audio aur videoki bahut avashakata है जबकी उनके खिलाफ के सच लगनेवाले झूठे Audio video तुरंत मिल जाते है PLS GANDHIJI KE BAREME BHI ACHHE AUDIO AUR VIDEO BANAE उनका पुर्ण जीवन प्रेरणादायी है

    उत्तर देंहटाएं

आप अपनी टिप्पणी के माध्यम से अपनी राय से मुझे अवगत करा सकते हैं । आप कैसी भी टिप्पणी देने के लिये स्वतन्त्र हैं ।